AchievementsStop

  • प्रदेश में विभिन्न श्रम अधिनियमों के अन्तर्गत 11859 निरीक्षण किये गये ।
  • पाये गये उल्लंघनों में 2584 उपशमन एवं अभियोजन दायर किये गये ।
  • प्रदेश में निस्तारित दावों/औद्योगिक विवादों (सी.पी. /सी.बी. ) एवं प्रतिपालित एवार्ड की संख्या 279 है ।
  • प्रदेश में वेतन सदांय अधिनियम 1936,  न्यूनतम वेतन अधिनियम व ग्रेच्युटी अधिनियम के अन्तर्गत लाभान्वित किये गये श्रमिकों/मृतक श्रमिकों के आश्रितों की संख्या 863 है जिन्हें रू0 1,56,51,130की धनराशि भुगतान करायी गई।
  • प्रदेश में बोनस भुगतान अधिनियम के अन्तर्गत 73,410 श्रमिकों को लाभान्वित किया गया तथा उन्हें रू0 43,66,14,950 की धनराशि बोनस के रूप में भुगतान कराई गई ।
  • प्रदेश में श्रमिकों एवं नियोजकों के मध्य उत्पन्न 05 औद्योगिक विवादों के समझौते कराये गये ।
  • प्रदेश में टेªड यूनियन अधिनियम के अन्तर्गत 12 यूनियनों का पंजीकरण तथा 165 वार्षिक कार्यकारिणी के चुनाव दर्ज कराये गये ।
  • प्रदेश में भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड के अन्तर्गत 27,817 श्रमिको का पंजीकरण किया जा चुका है 
  • कर्मकार कल्याण बोर्ड की बैठकें नियमित रूप से की जा रही हैं।
  • प्रदेश में सभी जनपदो एवं  परगनों के बंधुवा श्रमिक सतर्कता समितियों का पुर्नगठन किया गया है
  • प्रदेश में कुल 3387 कारखाने पंजीकृत हैं, जिनमें लगभग 4.1 लाख श्रमिक नियोजित है।
  • प्रदेश में भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्यान उपकर अधिनियम 1996 के अन्तर्गत  (सेस) के रूप में कुल रू0 79.26 करोड़ की धनराशि प्राप्त हुयी है।
  • प्रदेश में विभिन्न श्रम अधिनियमों के अन्तर्गत पंजीयन/नवीनीकरण एवं उपशमन आदि स्रोतों से  रू0 4,01,42,174 की धनराशि राजस्व के रूप में प्राप्त हुई है।

read more...

Common Man’s Interface For  Welfare Schemes(External Website that opens in a new window)

Hit Counter 0000163978 Since: 22-12-2011